Hari tokri-hindi story

Hindi reading seems a tough task for many children who are residing outside India. To boost small kids’ confidence to read Hindi, this booklet written in an easy to read format. Introducing basic colours and simple sentence structure for children. Parents can use the pictures to enhance the interest of a child to communicate in Hindi.

Coat ka kissa

कुछ   पांच या छः  साल पहले का किस्सा रहा होगा।  बड़े शौक से मैंने आपने बड़े बेटे के लिए एक कोट ख़रीदा।  स्कूल के स्टेज पर कोई प्रोग्राम था जहां जा कर कुछ बोलना था।  जनाब कोट पैंट पहन कर शीशे के सामने खड़े आपने को घंटो निहारते रहे ,फिर बोले – ” मैं तो बिलकुल पापा जैसा लग रहा हूँ। ” प्रोग्राम वाले दिन कोट ने confidence में चौगुना वृद्धि की और तालियों की गरगराहट से पता चला की कोट अपना कमाल दिखा चूका था।  प्रोग्राम के बाद लगा कर्ण के कवच जैसै इस कोट को शरीर से अलग न करने का फैसला ले लिया गया था।  खैर , अगले दिन तक कोट दोबारा हंगर में लटक कर अलमारी में विलीन हो गये।  हफ्ते गुज़रे ,फिर कुछ महीने और फिर साल पर साल पर कोट पहने का कोई दूसरा मौका ही न आया।  ऐसा  ना  था की कोशिश न की गयी हो ,पर ज्यादा स्मार्ट दिखने और फिर दोस्तों के बीच हसीं का पात्र बनने का जोखिम उठाये भी तो कैसे ? बड़े भाई और कोट की विडंबना का चित्रण देख छोटा भाई अपना फ़रमान सुना चूका था – ” बड़े भाई के सारे पुराने कपडे मैं पहनता हूँ , मुझे पर ये कोट पहनने को ना कहना ,मुझे नहीं दिखना इतना स्मार्ट , सब हॅसेंगे। “

आज भी कोट इंतज़ार ही कर रहा है अपनी बारी  का अलमारी में टंगे हुए।

Something for Hindi

हिंदी पर गर्व करना ,ये वाक्य मेरे लिए उतना ही अद्भुत है जितना संसार में  पेड़ो  का  हरे होना या आकाश का नीला होना।

मैं  तो सदैव हिंदी की ही रही हूँ और हिंदी कभी भी मेरे लिए भाषा तो रही नहीं।  मेरी अभिव्यक्ति ,भाव ,तनाव,हास्य  और रूचि तो हिंदी ही रही और रहेगी  भी।

जब मेरी सोच का माध्यम हिंदी ही  है तब गर्व किस बात के लिए और क्यों? खैर , इस प्रश्न  का उत्तर  भी मुझे हिंदी ने ही आपने तरीके से दिया।

कोई दो दशक  पूर्व अंग्रेज़ी सीखना मेरी अनिवार्यता बन गयी थी।  अंग्रेज़ी  का एक टेस्ट होता था , IELTS  अब उन दिनों बिडम्बना ये थी की विदेशी मेडिकल एग्जाम से  पूर्व IELTS में एक निर्धारित स्कोर लाना पड़ता था। उन दिनों मेरी इंटर्नशिप चल रही थी और नया नया शौक लगा IELTS देने का।  अब उस वक़्त इंटरनेट आज की तरह बहु प्रचिलित नहीं हुआ करता था।  इसलिए लोगो से पूछ पाछ  कर काम चलना पड़ता था।  किसी ने बताया की कॉलेज के एक सीनियर  ने हाल ही में  IELTS क्लियर किया हुआ है तो उनसे पूछ लो।  ख़ैर IELTS की जानकारी और किताबे तो उपलब्ध हुई परन्तु अंग्रेज़ी भाषा के ज्ञान के अर्जन हेतु मैं ने इन श्रीमान की श्रीमती होने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया। इसी बीच IELTS का स्कोर आया ,अपनी उपलब्धि पर किसी ओलिंपिक पदक विजेता जैसा गर्व महसूस हो रहा था।  लगा चलो अंग्रेज़ी तो सीखी अब आगे तो अंग्रेज़ी ही रास्ता दिखाएगी।  पर ये क्या IELTS  का स्कोर तो केवल दो साल तक ही मान्य रहता है।  मतलब जो करना है वो दो साल के अन्दर करो वरना दुबारा टेस्ट दो. अब हमे लगा ये दोबारा ऐसा  कपटी एग्जाम दे ने की हिम्मत तो है नहीं तो सोचा चलो एक बार विदेश यात्रा कर ही आये।  इसी व्यस्तता में हिंदी को मैं आपने से दूर कर  रही थी। हिंदी में न कोई लेख पड़ती थी और न किसी से हिंदी चर्चा का प्रयोजन महसूस होता था।  समय बीतता गया और हिंदी चुपचाप मेरा इन्तज़ार करने लगी। कभी हिंदी मुझ से मिलने आती बच्चो  की लोरियों में तो कभी बच्चो   छोटी छोटी कहनियो में।  धीरे धीरे बच्चो को अहसास हो गया था की उनकी माँ की मातृ भाषा हिंदी ही है और अंग्रज़ी सिर्फ कार्य क्षेत्र की भाषा  भर है। बच्चो में एक गर्वबोध था माँ से अच्छी हिंदी किसी की नहीं है।  बस दोनों ने जिद पकड़ ली की अब उन्हें हिंदी में कोई चैंपियन बना सकता है तो उनकी माँ. अपनी टूटी फूटी हिंदी ले कर शब्दों को लगे जोड़ने।  उनका आग्रह  देख हिंदी थोड़ा हसीं ,फिर हाथ थाम कर बोली -चलो फिर से शुरू करे अ से अनार।

History in making : A child’s perspective on 2020

Not very long ago I finished learning my alphabet 

Soon reading books becomes my greatest asset

Strangely, I become inquisitive and start exploring the mystery

 Of the past through the lessons of history

 For me, chapters  in a history book are some vehicle 

That secretly travels between different time zones  and experience is magical 

 Sometimes reading about the era of the king-queen kingdom

  Sometime collecting knowledge on struggle of freedom

So many stories and so many wonders

Some treaties proved blessing , and some regarded as blunders

 World war to World Trade Tower disasters

Lucky me  ️born many years after 

I thought no more such catastrophe going to come on earth any soon 

 However, the year 2020 unfortunately not looking like a boon 

It seems the merciless Corona not letting anyone immune 

No school for me so all day watching cartoon 

I can feel I am being part of history in making 

But the whole experience is terrible, and I am shaking 

Thinking how would my family going to cope 

But still, I am not losing hope 

Things will be back to normal again someday

 Until then, we need to stay calm anyway. 

Witnessing history in making 2020

What’s the name


Around five years back, my growing up started getting curious about his surroundings. While scrolling down through the local park, he constantly chirps in “Mom what the name of this big plant is? “ “Momy look at this amazing red flower, what’s the name? All I could mutter for ten questions- “Sorry! I don’t know 🤷‍♀️. After a few minutes, his patience silently stood a few meters apart from him, and he asks – “Moma what do you know? “ “Not much “- I confessed. “ My knowledge about Australian native flora is almost nothing. But yes, I am at least good with Indian plants. So why don’t you teach me little about Australian kinds of stuff and I exchange my knowledge of Indian nature .”- I proposed the plan in front of him. He quickly reached to the conclusion- “why not mommy “. Since then, he never asked me what’s the name of the plant or flower; instead, he explains to me about tress and plant, while we go together for a walk.

When blue sky meets green grasses

Unfolding the creative canvas

 

Meet the artist 

Hi, I am Sarva from India . I am a 10 year old boy and my  hobby is passing time with colours. I learnt my skills from YouTube videos and specially want to thank Deepak Art and Craft for creating such useful videos for kids. If I can create colourful artwork then you can also channelize your spare time into a creative canvas.  

 

If you also want to be the part of unfolding the creative canvas ,send me an email with your artwork along with the permission of your parents.

kidvarta_invite

%d bloggers like this: